रोजाना समाचार अपने मोबाइल पर पाने के लिए या कोई भी सुचना देने के लिए आपके सभी व्हाट्सप्प ग्रुप्स में हमारा नंबर 9893200664 जोड़े

जिला चिकित्सालय की नर्सों की लापरवाही के कारण आज सुबह एक महिला को मौत के घाट उतारना पड़ा - Humara Mandsaur
Mon. Oct 14th, 2019

Humara Mandsaur

News & Mandi Bhav

जिला चिकित्सालय की नर्सों की लापरवाही के कारण आज सुबह एक महिला को मौत के घाट उतारना पड़ा

1 min read
अपने सभी दोस्तों के शेयर करने के लिए निचे क्लिक करे

जिला चिकित्सालय की नर्सों की लापरवाही के कारण आज सुबह एक महिला को मौत के घाट उतारना पड़ा जिला चिकित्सालय की नर्सों ने पूरा जिला चिकित्सालय का माहौल खराब कर रखा है वही बाहर से आने वाले पीड़ितों के साथ अपना रवैया अच्छा नहीं है जिला कलेक्टर तत्काल इस मामले की जांच कर दोषी नर्सों के खिलाफ ठौस कार्रवाई करें
*मन्दसौर आज सुबह 9:30 बजे के लगभग मंदसौर जिला चिकित्सालय में एक पीड़ित महिला को दर्द होते देख मानवता को शर्मसार करने वाली घटना सामने आई है जब पीड़ित महिला के परिजनों ने जिला चिकित्सालय की स्टाफ की नर्सों से कहा कि मैडम हमारी बहन की तबीयत ज्यादा खराब हो रही है आप चलकर देख लो लेकिन उन्होंने उस पीड़ित परिवार की एक नहीं सुनी और आखिरकार उस पीड़ित महिला को मौत के घाट उतारना पड़ा मन्दसौर जिला कलेक्टर साहब को चाहिए कि दोषी नर्सों के खिलाफ ठौस कार्रवाई करें एवं सीएमएचओ और भी जिला चिकित्सालय के जिम्मेदार अधिकारियों से खाध्योत समाचार के माध्यम से खुला कहना है कि यदि उस महिला की इलाज के कारण या लापरवाही के कारण मौत हुई है तो जो भी दोषी नर्स है उसके खिलाफ ठौस कार्रवाई करना चाहिए देखो खबर के साथ यह वीडियो भी जारी की गई है जिला चिकित्सालय के खिलाफ खाध्योत समाचार की कलम अब लगातार चलती रहेगी क्योंकि जिला चिकित्सालय में कोई भी मरीज जाता है तो उसे ढंग से नहीं देखा जाता है और आखिर उस मरीज को मौत के घाट उतारना पड़ता है जिला चिकित्सालय द्वारा लगातार पीड़ितों के साथ अभद्र व्यवहार करना उनसे बोलना वही बार्डल चढ़ी हुई खाली होने के बावजूद भी यह नहीं खोलते हैं बहुत देर बाद आते हैं और वह भी काफी रिक्वेस्ट करने के बाद क्या शासन-प्रशासन इनको क्या वेतन नहीं दे रही क्या यह फ्री में काम कर रही क्या ऐसे दोषी नर्सों के खिलाफ ठोस कार्रवाई करना चाहिए मंदसौर जिला जिला चिकित्सालय का भगवान ही मालिक है तभी आए दिन यहां के मरीजों को अन्य जगह रेफर कर दिया जाता है जिला कलेक्टर महोदय को चाहिए कि जिला चिकित्सालय का अचानक निरीक्षण करें ताकि दूध का दूध और पानी का पानी हो सके और जिला चिकित्सालय के मरीजों को आए दिन रेफर करने का सिलसिला भी चल रहा है इस मामले को भी गंभीरता से लेना चाहिए यदि डॉक्टरों की कमी है तो शासन को एक पत्र लिखकर अपनी मांग करेगी जिला चिकित्सालय में डॉक्टरों की कमी होने के कारण ऐसी नौबत आ रही है देखो खबर के साथ विडियो भी जारी किया गया है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *