Sun. Aug 25th, 2019

Humara Mandsaur

News & Mandi Bhav

अब नेत्रहीन भी कर सकेंगे नकली नोटों की पहचान

1 min read
अपने सभी दोस्तों के शेयर करने के लिए निचे क्लिक करे

दृष्टिबाधित लोग अब जाली नोटों की पहचान आसानी से कर सकेंगे। इसके लिए आरबीआई एक मोबाइल एप्लीकेशन लेकर आ रहा है। आरबीआई ने यह कदम देश में नकदी के अधिक इस्तेमाल को लेकर उठाया है। बता दें कि नेत्रहीन लोगों को नोटों की पहचान में कोई दिक्कत न हो इसके लिए नोटों पर इंटाग्लियो प्रिंटिंग आधारित पहचान चिह्न रहते हैं। यह चिह्न 100 रुपये और उससे ऊपर के नोट में हैं। बता दें कि वर्तमान में 10, 20, 50, 100, 200, 500 और 2,000 रुपये के बैंकनोट चलन में हैं।
ऐप लाने के पीछे रिजर्व बैंक ने कहा है कि नेत्रहीन लोगों के लिए नकदी आधारित लेनदेन को सफल बनाने के लिए बैंकनोट की पहचान जरूरी है। केंद्रीय बैंक ने कहा, रिजर्व बैंक नेत्रहीनों को बैंक नोट को पहचानने में आने वाली दिक्कतों को लेकर संवेदनशील है। बैंक मोबाइल एप विकसित करने के लिए वेंडर की तलाश कर रहा है।
यह ऐप महात्मा गांधी श्रृंखला और महात्मा गांधी (नई) श्रृंखला के नोटों की पहचान करने में सक्षम होगा। इसके लिए व्यक्ति को नोट को फोन के कैमरे के सामने रखकर उसकी तस्वीर खींचनी होगी। यदि नोट की तस्वीर सही से ली गई होगी तो एप ओडियो नोटिफिकेशन के जरिए नेत्रहीन व्यक्ति को नोट के मूल्य के बारे में बता देगा। अगर तस्वीर ठीक से नहीं ली गई या फिर नोट को रीड करने में कोई दिक्कत हो रही है तो एप फिर से कोशिश करने की सूचना देगा।

समाचार जारी ...

1 min read
1 min read
1 min read

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *