रोजाना समाचार अपने मोबाइल पर पाने के लिए या कोई भी सुचना देने के लिए आपके सभी व्हाट्सप्प ग्रुप्स में हमारा नंबर 9893200664 जोड़े

विधानसभा का मानसून सत्र, कर्ज माफी पर विपक्ष का वॉकआउट - Humara Mandsaur
Sun. Sep 22nd, 2019

Humara Mandsaur

News & Mandi Bhav

विधानसभा का मानसून सत्र, कर्ज माफी पर विपक्ष का वॉकआउट

1 min read
अपने सभी दोस्तों के शेयर करने के लिए निचे क्लिक करे

शून्यकाल में पूर्व मंत्री शिवराज बोले-किसानों को खाद-बीज की व्यवस्था के ऋण के लिए साहूकारों के पास जाना पड़ रहा हैै। स्थगन प्रस्ताव के माध्यम से बिना देर किए इस मुद्दे पर तत्काल चर्चा कराई जाए। अध्यक्ष के आश्वासन के बाद भी विपक्ष संतुष्ट नहीं हुआ।

कर्ज माफी पर दिए स्थगन पर चर्चा की मांग को लेकर भाजपा विधायकों ने सदन से वॉकआउट कर दिया। शून्यकाल में पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आरोप लगाया कि कांग्रेस ने अपने वचनपत्र में दो लाख रुपए तक की कर्ज माफी की घोषणा की थी, लेकिन इसके आदेश में अल्पकालीन ऋण की बात कही गई है। किसानों को खाद-बीज की व्यवस्था करने ऋण के लिए साहूकारों के पास जाना पड़ रहा है। स्थगन प्रस्ताव के माध्यम से बिना देर किए इस मुद्दे पर चर्चा कराई जाए। नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने कहा कि किसानों को बारिश के मौसम में सहकारी संस्थाओं से खाद-बीज नहीं मिल पा रहे। किसान आत्महत्या कर रहे हैं।

उनके पास 12 ऐसे किसानों की सूची है, जिनके ऋण माफ नहीं हुए। विधानसभा अध्यक्ष एनपी प्रजापति ने कहा कि उन्हें स्थगन प्रस्ताव प्राप्त हुआ है और इस विषय पर किसी न किसी रूप में चर्चा कराई जाएगी। अध्यक्ष के आश्वासन के बाद भी चौहान, भार्गव सहित भाजपा विधायक इस मुद्दे पर तत्काल चर्चा कराने पर अड़े रहे और नारे लगाते हुए सदन से वॉकआउट कर गए।

सीएम बोले…किसी को नहीं दिया बैंड बजाने का प्रशिक्षण : सरकार ने पशु हांकने व बैंड बजाने के लिए किसी को प्रशिक्षण या रोजगार नहीं दिया है। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भाजपा विधायक विश्वास सारंग के प्रश्न के लिखित उत्तर में यह जानकारी दी है। उत्तर में उन्होंने कहा कि 1 जनवरी से विभाग ने कुल 15,339 लोगों को निजी क्षेत्र में रोजगार उपलब्ध कराया। पशु हांकने व बैंड बजाने के लिए किसी युवा को प्रशिक्षण या रोजगार नहीं दिया गया।

दो घंटे में रिपोर्ट पटल पर रखें : विधानसभा अध्यक्ष प्रजापति ने मंदसौर जिले के स्वास्थ्य केंद्र में पदस्थ एक डॉक्टर के खिलाफ शिकायत के मामले में स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट को दो घंटे में जांच करा कर रिपोर्ट पटल पर रखने के निर्देश दिए। कांग्रेस विधायक हरदीप सिंह डंग ने आरोप लगाया कि सुवासरा स्वास्थ्य केंद्र में पदस्थ डॉ आरएस जौहरी ने नर्सिंग होम खोला है और स्वास्थ्य केंद्र की मशीनें वे नर्सिंग होम में ले गए हैं। उन्होंने मांग की कि कलेक्टर नर्सिंग होम पर छापा मारें, ताकि सच्चाई सामने आ सके।

आयुष्मान योजना में लापरवाही : भाजपा विधायकों ने केंद्र की आयुष्मान योजना में लापरवाही के आरोप लगाए। विधायक कुंवर कोठार ने भोपाल के एक अस्पताल में कार्ड होने के बावजूद हितग्राही से पैसे वसूलने का आरोप लगाया। स्वास्थ्य मंत्री ने आश्वासन दिया कि मामलेे की जांच होगी। भाजपा के ही अजय विश्नोई ने कहा कि क्या सरकार इस योजना से लाभान्वित होने वाले 50 मरीजों से बात कर इस योजना में अस्पतालों द्वारा अतिरिक्त राशि लेने के आरोपों का सत्यापन कराएगी। सिलावट ने कहा कि जहां शिकायतें आएंगी, वहां कार्रवाई होगी।

माखनलाल पत्रकारिता विवि अधिनियम संशोधन विधेयक पेश : माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विवि के अधिनियम में संशोधन का विधेयक विधानसभा में पेश किया गया। इसके अनुसार महापरिषद सदस्यों के चयन के लिए संशोधन प्रस्तावित है। वर्तमान में मप्र के एक सांसद का नॉमिनेशन लोकसभा अध्यक्ष और एक राज्यसभा सदस्य का नॉमिनेशन राज्यसभा के सभापति द्वारा किया जाता है। उसमें संशोधन कर इसका अधिकार राज्य सरकार को देने का प्रस्ताव है। इसी तरह कई अन्य सदस्यों के चयन में राज्य सरकार या मुख्यमंत्री काे अधिकार देने की बात कही गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *